अंडा शाकाहारी है या मांसाहारी, वैज्ञानिकों ने दिया है सही जवाब

अंडा शाकाहारी है या मांसाहारी, इस बात पर अक्सर बहस होती रहती है। शाकाहारी खाने वाले लोग अंडे को नॉनवेज बताने के कई तर्क देते हैं जबकि नॉनवेज खाने वाले लोग अंडे को शाकाहारी होने के बारे में तर्क देते हैं लेकिन अब वैज्ञानिकों ने इस बहस को विराम दे दिया है। वैज्ञानिकों ने बता दिया है कि अंडा मांसाहारी नहीं बल्कि शाकाहारी होता है।

क्या है शाकाहारी के पीछे का तर्क

लोगों का मानना है कि अंडा मुर्गी से आता है इसलिए वह नॉनवेज हैं लेकिन साइंस्टों का मानना है कि ऐसे तो दूध भी जानवर से आता है तो वह शाकाहारी कैसे हुआ।

कैसे शाकाहारी होता है अंडा

ज्यादातर लोगों को गलतफहमी है कि अंडे से चूजा निकलता है लेकिन आपको हम बता दें कि बाजार में मिलने वाले अंडे अनफर्टिलाइज्ड होता है यानी इस अंडे से कभी चूजा नहीं निकल सकता है।

दरअसल, अंडे में तीन लेयर (हिस्से) होती हैं- पहला छिलका, दूसरा सफेदी(albumen) और तीसरा अंडे की जर्दी(yolk)। अंडे पर की गई एक रिसर्च के मुताबिक, अंडे की सफेदी में सिर्फ प्रोटीन होता है। उसमें जानवर का कोई हिस्सा मौजूद नहीं होता। इसलिए तकनीकी रूप से एग वाइट(सफेदी) शाकाहारी होता है।

एग वाइट की ही तरह एग योक(अंडे की जर्दी) में भी प्रोटीन के साथ सबसे ज्यादा कोलेस्ट्रोल और फैट मौजूद होता है। हालांकि, अंडे मुर्गी और मुर्गे के संपर्क में आने के बाद दिए जाते हैं, उनमें गैमीट सेल्स मौजूद होता है, जो उसे मांसाहारी बना देता है।

मुर्गी कैसे देती है अंडा?

मुर्गी जब 6 महीने की हो जाती है तो हर एक या डेढ़ दिन में अंडे देती ही है, लेकिन उसके अंडे देने के लिए जरूरी नहीं कि वह किसी मुर्गे के संपर्क में आई हो। इन अंडों को ही अनफर्टिलाइज्ड एग कहा जाता है। वैज्ञानिकों का दावा है कि इनमें से कभी चूजे नहीं निकल सकते। ऐसे में अगर आप अभी तक अंडे को मांसाहारी मानते हैं तो भूल जाइये, क्योंकि अंडा शाकाहारी है।

Comments

comments