भारत महिलाओं के लिए पाकिस्तान से भी ज्यादा खतरनाक है, सर्वे का दावा

भारत में यौन हिंसाओं के बढ़ते आंकडों के कारण भारत महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे खतरनाक देश की लिस्ट में नम्बर वन पर है जबकि आतंकवाद से प्रभावित अफगानिस्तान और युद्धग्रस्त सीरिया क्रमश: दूसरे और तीसरे नंबर पर है। इस लिस्ट में पाकिस्तान नंबर 6 पर है, जबकि अमेरिका दसवें नंबर पर।

दैनिक भाष्कर में छपी खबर के मुताबिक यह दावा द थॉमसन रिट्यूर्स फाउंडेशन के सर्वे में किया गया है। इस सर्वे में महिलाओं के अधिकारों पर काम करने वाले करीब 550 एक्सपर्ट्स शामिल हुए थे। इन्हें 193 देशों में महिलाओं के लिए बदतर देशों में टॉप 10 रैंक देने को कहा गया था। इसमें भारत को पहले स्थान पर रखा गया है।

  1. भारत : नम्बर वन पर रखने की तीन वजह बताई गई। सेक्सुशल वॉयलेंस की घटनाएं बढ़ी हैं। नेशनल क्राइम ब्यूरो के अनुसार यहां रोजाना 100 से भी अधिक सेक्शुअल हैरासमेंट के केस दर्ज होते हैं। इसके अलावा कल्चरल और ट्रेडिशनल प्रैक्टिस और महिलाओं की बढ़ती तस्करी अन्य दो वजह हैं।

 

  1. अफगानिस्तान : महिलाओं पर नॉल सेक्सुशल वॉयलेंस, स्वास्थ्य सुविधाओं की भारी कमी और आर्थिक संसाधनों का अभाव।

 

  1. सीरिया : सात साल के गृहयुद्ध के कारण महिलाओं की स्थिति काफी दयनीय हुई है। महिलाओं की स्वास्थ्य सुविधाओं तक कोई पहुंच नहीं।

 

  1. सोमालिया : 1991 से यहां गृहयुद्ध चल रहा है। इससे महिलाएं अनसेफ फील करती हैं। ट्रेडिशनल कल्चर की वजह से भी महिलाएं परेशान।

 

  1. सऊदी अरब : कार्यस्थलों पर महिलाओं के साथ भेदभाव। सांस्कृतिक व धार्मिक परम्पराओं के कारण महिलाएं अनसेफ।

छठे नंबर पर है पाकिस्तान

सांस्कृतिक और धार्मिक परम्पराओं, ऑनर किलिंग और घरेलू हिंसा के मामलों के कारण वहां महिलाओं की स्थिति अच्छी नहीं है। इसलिए उसे छठे स्थान पर रखा गया है।

अमेरिका 10वें नंबर पर

पिछले साल #MeToo कैम्पेन के कारण अमेरिका में हजारों महिलाओं ने सोशल मीडिया के जरिए सेक्शुअल हैरासमेंट की स्टोरीज शेयर की थीं। इसी वजह से अमेरिका भी इस लिस्ट के टॉप 10 देशों में शामिल है।

साभार स्रोत : दैनिक भाष्कर

 

 

 

Comments

comments