कैब

बीते दिनों बेगलुरू में एक महिला के साथ ओला कैब ड्राइवर ने छेड़छाड़ की। ड्राइवर ने गैंगरेप की धमकी देकर महिला के कपड़े उतरवाएं और मोबाइल पर तस्वीरें क्लिक की। इससे पहले भी कैब ड्राइवरों द्वारा छेड़खानी की कई वारदातें सामने आ गई हैं। अब ऐसा तो है नहीं कि डर के महिलाएं घर से बाहर निकलना ही बंद कर दें या कैब में जाना ही छोड़ दें। अपने डर पर काबू पाकर महिलाओं को अपनी सुरक्षा के लिए सशक्त होना पड़ेगा।

इसलिए आज हम आपको बता रहे हैं कि महिलाओं को  कैब में सफर करते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, ताकि वह सुरक्षित रह सकें।

  1. सबसे पहले कैब में बैठते ही अपनी डिटेल्स अपने परिवार के किसी सदस्य या दोस्त को भेज दें।
  2. किसी खास मित्र, पति, मम्मी- पापा या भाई – बहिन को अपने गंतव्य और रुट बता दें।
  3. कैब में बैठकर फोन पर किसी से बात करती रहें, ताकि ड्राइवर को अहसास रहें कि दूसरी तरफ कोई है।
  4. उस व्यक्ति का नम्बर कॉल लास्ट में रखें, जो परेशानी में आपकी तुरंत मदद कर सकता हो। जब भी कुछ सही ना लगे, लास्ट कॉल को फटाफट डायल करके सूचित कर दें।
  5. सचेत रहें, लापरवाह ना बनें, ऊंघने की स्थिति में ना रहें। चाहे कुछ भी हो जाए आपको सोना नहीं हैं।
  6. नीचे होकर सिर्फ अपने फोन पर ही ना लगी रहीं, इससे ड्राइवर अपना रुट बदल सकता है और आपको पता भी नहीं चलेगा।
  7. ड्राइवर की गातिविधियों पर भी नजर रखें।
  8. अगर आपको रास्ता नहीं पता है तो जीपीएस की मदद से ही कैब को चलने के लिए कहें।
  9. यदि ड्राइवर आपको कहें कि शार्टकट रास्ते से ले जाएगा तो उसे तुरंत मना कर दें।
  10. अपने साथ मिर्जी पाउड़र, स्प्रे, मूव जैसी चीजें रखें।
  11. अगर आपको कुछ गलत होने का आभास हो रहा हो तो तुंरत कार का शीशा खोलकर चिल्लाएं।
  12. आत्मविश्वास और निड़रता के साथ सफर करें। किसी भी डर को मन में ना बैठने दें।

Comments

comments